अजमेर 3 दिसंबर 2015 । बुधवार को अजमेर में जवाब देही मेला लगाया गया । मेले में दूर दराज के गाँवो से लोग पेंसन, रासन, पानी, शोचालय, स्वास्थ्य, रासनकार्ड, नरेगा काम व् भुक्तान, विधवा पुत्री विवाह, आदि शिकायते लेकर आये, और उनको दर्ज किया गया । इसी तरह टिकवाड़ा में पानी की समस्या हे, हैण्डपम्प का जलस्तर नीचे चला गया हे । मेले में आयी मोहनी देवी पत्नी सर्वण् गांव टिकवाड़ा तहसील किस्नगड़ ने दिनांक 27.5.2015 से 26.5.2015 तक 24 दिन नरेगा में काम किया था । जिसका भुगतान अभी तक नही हुआ हे । सिलोरा ग्राम पंचायत के ग्रामवासियो ने बताया की नरेगा कार्य बन्द हे । टिकवाड़ा में रासन कोटा नियमित आवंटित करवाया जावे । सिलोरा निवासी महावीर कुमावत ने बताया की मुझे अभी तक रासन कार्ड नही मिला है । मुंडोलाव निवासी ग्राम पंचायत काढ़ा पंचायत समिति सिलोरा का जॉबकार्ड नंबर 243 हे, इन्होंने दिनांक 1.3.2015 से 15.3.2015 तक 42 दिन नरेगा में काम किया था जिसका भुक्तान अभी तक नही हुआ हे । इसी तरह लक्षमी व् भिवराज निवासी मुंडोलाव ने 1.6.2015 से 30.6.2015 तक 34 दिन नरेगा में काम किया था । इन दोनों का अभी तक भुकतान नही हुआ हे । छोटी देवी पत्नी श्री निवास ग्राम अरांई जिला अजमेर की सादी 8 फ़रवरी 2015 को हुई थी, इसने समाज कल्याण बोर्ड में आवेदन किया गया मगर अभी तक अनुदान राशि नही मिली हे । वही गणेशलाल अरांई ने बताया की मेरे मीटर में खराबी होने के कारण रीडिंग ज्यादा आ रही हे कई बार बिजली विभाग को शिकयत की गयी मगर अभी तक समाधान नही हुआ हे । इसी तरह छोटा नरेना निवासी पंचायत समिति किस्नगड़ की लालपुरी पत्नी नारायनपुरी व् पढ़लादपुरी ने शोचालय बना लिया हे मगर शोचालय की राशि अभी तक नही मिली हे । इसी तरह उदयपुर खुर्द निवासी हनुमान भील ने बताया की भीलो की ढानी में 30 परिवार निवास करते हे इनको सरकार ने 5 बीघा भूमि दी थी । जिस पर मकान बनाकर रहते आ रहे हे । और जब पटवारी के पास तरमीम करवाने गए तो पता चला की आप की जगह का नम्बर यह नही हे । कही और जगह हे इस तरह प्रभावसलि लोगो से मिलकर  ये नम्बर किसी और को दे दिया । ये 30 परिवार 2 साल से अपनी फरियाद को लेकर परेसान हो रहे हे मगर अभी तक समाधान नही हुआ । ये लोग आज जवाबदेही मेले में आये थे । वही किसान संघर्स समिति ग्राम ढाणी राठोडा का 15 मार्च 2015 से धरना अभी तक चल रहा हे । इनकी मांग हे की किस्नगड़ में जो एयरपोर्ट बन रहा हे उनमे 4 गाँवो की जमीन को सरकार अधिग्रहण कर रही जिसमे एक गांव तो समूचा सामिल हे । मुआवजा राशि एक समान हो, मवेशियों के लिए जमीन मिले, मंदिर, स्कूल, सामुदायिक भवन, के लिए अलग से जमीन मिले मगर सरकार द्वारा अभी तक भी सुनवाई नही की जा रही हे । ये लोग आज जवाबदेही मेले में अपनी शिकयत लेकर आये हे । और सरकार से न्याय की मांग कर रहे हे । पर सरकार सोयी हुई हे । वही जवाबदेही मेले में करीब 300 लोगो ने अपनी शिकायते दर्ज करवाई हे । इन शिकायतों को लेकर  सेकड़ो लोग एक रैली के रूप में जिला कॉलक्ट्रेक्ट पहुंचे और  शिकायते दी । वही जवाबदेही मेले के बाद एक प्रेस कान्फ्रेन्स कर जवाबदेही यात्रा व् मेले में आई शिकायतों के बारे में बताकर सरकार से जवाब माँगा गया ।एक प्रतिनिधिमण्डल जिला कलक्टर अजमेर से मिला और समाधान की मांग रखी । उन्होंने प्रतिनिधिमण्डल को आश्वस्त करते हुए कहा की तय समय में शिकायतों का निवारण किया जावेगा । प्रतिनिधिमण्डल ने कहा की हम इन सब शिकायतों का फलोउप करेंगे । यदि तय समय में शिकायतों का निवारण नही होता हे तो जिला कॉलक्ट्रेक्ट का घेराव करेंगे । प्रतिनिधिमण्डल में अरुणा रॉय, निखिल डे, डीएल त्रिपाठी, अनन्त भठनागर, ओपी रे, रामकरण  आदि लोग थे । मेले में सुचना अधिकार वाहन पर भी लोगो ने अपनी जानकारी लेकर शिकायत दर्ज करवाई ।
( फ़िरोज़ खान)
सुचना एवं रोजगार अधिकार अभियान की ओर से
सम्पर्क नम्बर — निखिल डे 9414004180 , कमल टांक 9413457292